सीतामढ़ी की स्थापना सन 1971 की 11 दिसंबर को तत्कालीन मुख्यमंत्री द्वरा कि गयी गई थी। सीतामढ़ी जो कि पहले मुजफरपुर का हिस्सा हुआ करता था उसे एक नए जिले का दर्जा प्राप्त हो चुका था। 25 लाख की जनसंख्या वाला यह राज्य भारत व नेपाल के बोर्डर के बीच पड़ता है। सीतामढ़ी जैसी जगह पर आपको हर प्रकार के भ्रमण स्थल मिलेंगे फिर चाहे वे ऐतिहासिक , धर्मिक या नवयुगीय ही क्यों न हों। उनमें से कुछ स्थान हैं :

  • पनौरा धाम
  • देओकुली
  • पंथ - पाकर
  • जानकी माता मंदिर
  • बगही मठ
  • गोरौल शरीफ
  • बोधायन - सार
  • हालेश्वर स्थान
  • सुकेश्वर स्थान
  • सभागाछी ससुला